•  कबीरधाम को मिली रेल परियोजना की सौगात

  •  यह गांव, गरीब, किसान की सरकार है

  •  अटल जी ने बनाया राज्य और प्रधानमंत्री मोदी ने दी विकास की रफ्तार

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने आज कवर्धा सहित सात जिलों का सपना साकार करते हुए कटघोरा-मुंगेली-कवर्धा-डोंगरगढ़ रेल लाइन परियोजना का शिलान्यास किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि हम छत्तीसगढ़ वासियों को सपना पूरा करते हैं। अटल बिहारी वाजपेयी जी ने जिस विकास के सपने के साथ छत्तीसगढ़ का निर्माण किया उसे पूरा करने में हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने जिस तत्परता से सहयोग किया है उसके लिए छत्तीसगढ़ की जनता की ओर से हम स्वागत करते हैं। छत्तीसगढ़ के इतिहास में अटल जी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नाम स्वर्णाक्षरों से अंकित होगा। छत्तीसगढ़ बनाने के लिए अटल जी सदैव याद किये  जायेंगे तो इस राज्य के विकास की तेज रफ्तार के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जिक्र हमेशा होगा।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि बहुत ही कम समय में प्रधानमंत्री श्री मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल और केन्द्रीय केबिनेट ने  छत्तीसगढ़ के विकास की तमाम परियोजनाओं और इस वृहद रेल परियोजना को मंजूरी दी, वह अभूतपूर्व है। छत्तीसगढ़ में हमारी केन्द्र सरकार ने रेल सेवाओं के क्षेत्र में ऐतिहासिक विस्तार किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी  कवर्धा और समूचे छत्तीसगढ़ के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। जब भी राज्य के हित में किसी भी विकास योजना का आग्रह उनसे किया जाता है। वे जल्द से जल्द उसे साकार करने तैयार हो जाते हैं।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि आज कवर्धा का उत्साह सातवें  आसमान पर है। कभी कल्पना भी नहीं की  थी कि रेल का सपना पूरा होगा। लेकिन जब छत्तीसगढ़ और केन्द्र की भाजपा सरकारें मिलकर छत्तीसगढ़ के चहुृमुखी विकास के लिए संकल्पित हों तो दुनिया की  कोई ताकत छत्तीसगढ़ के विकास को रोक नहीं सकती। छत्तीसगढ़ के विकास की यह यात्रा निरंतर जारी रहेगी। चौगुनी रफ्तार से विकास होगा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की रेललाइन परियोजनाएं यहां के विकास में मील का पत्थर साबित होगीं।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने विरोधियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वे विकास का विरोध करते हैं। हमारे गरीब भाइयों, किसानों, आदिवासियों माताओं-बहनों के हित में जब हम दिनरात चिंतन करके उनकी भलाई  के कदम उठाते हैं तो उनके पेट में दर्द होता है। पहले बोनस देना होगा, देना होगा के नारे लगाते थे।

जब हम धान से लेकर तेंदूपत्ता तक का बोनस दे रहे हैं तो वे विरोध करते हैं। वे नहीं चाहते कि हमारी माताएं-बहनें मोबाइल फोन पर अपने मुख्यमंत्री से बात करें। वे नहीं चाहते कि हर गरीब का अपना पक्का घर हो। वे नहीं चाहते कि हमारी माताओं बहनों को चुल्हे के धुएं से मुक्ति मिले। वे नहीं चाहते कि हमारी आदिवासी माताओं-बहनों-बेटियों का कल्याण हो। वे नहीं चाहते कि उनके पैर में कांटे न चुभें। कमाल के लोग हैं ये। खुद तो कभी विकास पर ध्यान दिया नहीं। जनता के हित में कोई काम किया नहीं और अब जब हम पूरे छत्तीसगढ़ के विकास के साथ ही समाज के हर तबके की तरक्की के ठोस उपाय कर रहे हैं तो उन्हें पीड़ा हो रही है। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ में जारी जनहित योजनाओं को भविष्य में और बेहतर तरीके से आगे बढ़ाने के लिए बुजुर्गों, माताओं बहनों से आशीर्वाद तथा नवजवानों से विकास के लिए सहयोग मांगते हुए कहा कि गांव, गरीब, किसान की यह सरकार छत्तीसगढ़ के सारे सपने साकार करेगी।
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इस अवसर पर ऐतिहासिक भीड़ वाली जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कवर्धा ने छत्तीसगढ़ को जागरूक मुख्यमंत्री दिया है। डॉ. रमन सिंह छत्तीसगढ़ के विकास के लिए हमेशा उत्साहित रहते हैं और यह उनकी विकास के प्रति लगन का ही परिणाम है कि छत्तीसगढ़ विकास के गढ़ के रूप में पहचान बना चुका है।
इस अवसर पर क्षेत्रीय सांसद अभिषेक सिंह, वरिष्ठ मंत्री अमर अग्रवाल, महेश गागड़ा सहित भाजपा पदाधिकारियों ने रेलमंत्री पीयूष गोयल के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उनका स्वागत किया।

डोंगरगढ़ में रुकेगी आजाद हिंद एक्सप्रेस

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कवर्धा के स्वमी करपात्री जी आउटडोर स्टेडियम में कटघोरा, मुंगेली, कवर्धा, डोंगरगढ़ रेल लाइन परियोजना के शिलान्यास अवसर पर डोंगरगढ़ रेलवे स्टेशन पर आजाद हिंद एक्सप्रेस रुकने की घोषणा भी की। लम्बी दूरी की इस रेल के डोंगरगढ़ में स्टापेज से आम यात्रियों और देशभर से माता के दर्शन करने डोंगरगढ़ आने वाले श्रद्धालुओंं को काफी राहत मिलेगी।

 

राफेल पर दुष्प्रचार कांग्रेस की बदनीयती का परिचायक- भाजपा

राहुल के झूठ से पसीना-पसीना कांग्रेस बगलें झांक रही 
भारतीय जनता पार्टी के सांसद व पूर्व केन्द्रीय मंत्री रमेश बैस ने राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस के दुष्प्रचार को उसकी बदनीयती का परिचायक माना है। राफेल सौदे पर कांग्रेस लगातार झूठ बोलकर देश को गुमराह कर रही है लेकिन देश और छत्तीसगढ़ की जनता अब कांग्रेस के झांसे में नहीं आने वाली हैै।
शनिवार को जारी एक वक्तव्य में  पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सांसद बैस ने कहा कि राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस का रवैया शुरू से ही बदनीयती का परिचय दे रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मामले में लोकसभा में झूठ बोलकर देश को गुमराह करने की कोशिश की और अब वे बुरी तरह अपने ही बुने झूठ के मकडज़ाल में फंस गये हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री बैस ने कहा कि राफेल सौदे को लेकर झूठ बोलकर और देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रति असंसदीय सम्बोधनों का इस्तेमाल कर राहुल गांधी ने न केवल राजनीतिक अपरिपक्वता व अशिष्टता का परिचय दिया, अपितु राजनीति को स्तरहीन बनाने का काम कर कांग्रेस की नीयत को भी सवालों के दायरे में ला दिया है।
भाजपा सांसद ने कहा कि अब कैग ने इस सौदे को लेकर कांग्रेस नेतृत्व से सबूत पेश करने को कहा है तो पार्टी के नेता अपने झूठ का पर्दाफाश होने के भय से पसीना-पसीना हो रहे हैं और आपस में बगलें झांक रहे हैं। इधर वायुसेना प्रमुख ने भी साफ तौर पर देश की रक्षा जरूरत के मद्देनजर राफेल को रक्षा-प्रणाली विकसित करने की दृष्टि से जरूरी माना है। बैस ने  सवाल उठाया है कि आखिर राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस ने यह रवैया क्यों अपनाया है? क्या राफेल सौदे  पर झूठ का रायता फैलाकर कांग्रेस नेतृत्व इस सौदे को रद्द करा के चीन और पाकिस्तान की मदद करने की कोशिश कर रहा है? कांग्रेस नेतृत्व  को इन सवालों का जवाब देश को देना चाहिए। राफेल को लेकर कांग्रेस के आचरण को शर्मनाक व गंभीर चिंता का विषय बताते हुए सांसद बैस  ने कहा कि सत्ता-लोलुपता के चलते कांग्रेस नेता देश की सुरक्षा जैसे अत्यंत संवेदनशील मुद्दे पर स्तरहीन राजनीति पर आमादा हो गए हैं। यह देश के साथ धोखाधड़ी से कम नहीं है। राहुल के झूठ से बुरी तरह फंसी कांग्रेस के नेता अब अपने नेतृत्व को सही साबित करने की नाकाम कोशिश कर चाहे जैसा मिशन चला लें, कांग्रेस के तेजी से गिरते राजनीतिक ग्राफ  को वे सम्हालने में नाकाम ही रहेंगे।

भारतीय जनता पार्टी के सांसद व पूर्व केन्द्रीय मंत्री रमेश बैस