छत्तीसगढ़ में 15 अगस्त तक सुनिश्चित कर ली जायेगी 90 प्रतिशत टिकिट

देश के प्रत्येक संस्थानों पर आरएसएस का दबाव है और उसे कैप्चर करने की हो रही है कोशिश

दुर्ग स्थित रविशंकर स्टेडियम में संभाग स्तरीय संकल्प शिविर में बूथ कमेटी के अध्यक्षों, सेक्टर प्रभारियों एवं अनुभाग अध्यक्षों से संवाद कार्यक्रम में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से स्पष्ट कहा कि आगामी विधानसभा की 90 प्रतिशत टिकिट 15 अगस्त तक सुनिश्चित कर ली जायेगी। स्थानीय जमीनी व्यक्ति को कार्यकर्ताओं की राय लेकर, पूछ कर ही टिकिट का आबंटन किया जायेगा। पैराशूट से आये बाहरी लोगो को टिकिट नहीं दी जायेगी। कांग्रेस में अब यह नहीं होगा कि कांग्रेस का कार्यकर्ता लड़ाई लड़ता है, जीतता है और सरकार आती है तो फिर उसकी सुनवाई नहीं होती।
आपने सभी कार्यकर्ताओं को अपना परिवार बताया और कहा कि यदि आपके साथ सही बर्ताव नहीं होगा, आपका अपमान किया जायेगा, आदर नहीं मिलेगा तो एक्शन लिया जायेगा। राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को संगठन की रीढ़ की हड्डी बताया और कहा कि जनता से मिलें, रिश्ता बढ़ायें, कांग्रेस को मजबूती प्रदान करें और पोलिंग बूथ पर शेर की तरह दिखायी दें। हमारी लड़ाई विचारधारा की है, हम सबको इन्हें चुनाव में हराना है। उन्होने इस सुझाव पर भी बल दिया कि प्रत्येक सीनियर नेता के पास पोलिंग बूथ की जिम्मेदारी होनी चाहिये।
राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये कहा कि देश के प्रत्येक संस्थानों पर आरएसएस का दबाव है और उसे कैप्चर करने की कोशिश हो रही है। कर्नाटक में भाजपा को सरकार बनाने का अवसर दिया जाता है, जबकि कांग्रेस को गोवा, मणिपुर में यह मौका नहीं दिया जाता है।

Advertisement

आपने यह भी कहा कि भाजपा एक दूसरे को लड़ाने का काम कर रही है। किसान, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति जो भी कमजोर है उनसे झूठा वायदा किया गया है। स्वच्छ भारत, डिजिटल इंडिया, स्टार्टअप इंडिया सहित कई योजनाओं की लाइन लगा दी गयी और किया कुछ नहीं। सीएम भ्रष्ट है, पीएम झूठे है और फायदा आरएसएस उठा रही है।
आज हालत यह है कि सुप्रीम कोर्ट के 4 माननीय जजो को जनता से न्याय मांगना पड़ा है। आपने कार्यकर्ताओं द्वारा ईवीएम पर उठाये सवाल पर कहा कि आज यह आवाज देश भर से उठ रही है कि बदलाव आना चाहिये। कांग्रेस कार्यकर्ताओं से रूबरू होते हुये बड़ी संख्या में उनके द्वारा उठाये गये अन्य सवालों पर भी राहुल गांधी ने विस्तार से जवाब दिया। 

Advertisement

इस मौके पर कांग्रेस के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष एवं सांसद मोतीलाल वोरा ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को आव्हान किया कि कुशासन को समाप्त करने के लिये कांग्रेस कार्यकर्ता एकजुटता से कार्य करें।
कार्यक्रम के आरंभ में स्थानीय सांसद ताम्रध्वज साहू ने स्वागत भाषण दिया, तद्पश्चात छत्तीसगढ़ प्रभारी पी.एल. पुनिया, प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल ने भी इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव, पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत, पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष धनेन्द्र साहू, पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविन्द्र चैबे, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, कार्यकारी अध्यक्ष डाॅ. शिवकुमार डहरिया, पूर्व मंत्री अमितेष शुक्ल, प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री राजेश तिवारी, विधायक गण अरूण वोरा, भोलाराम साहू, अनिला भेड़िया, तेजकुंवर नेताम, गिरवर जंघेल, भैयाराम सिन्हा, दुर्ग शहर अध्यक्ष आर.एन. वर्मा, दुर्ग ग्रामीण अध्यक्ष तुलसी साहू, महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम, युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष और एनएसयुआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं 5 जिले के 20 विधानसभा क्षेत्रों के बूथ कमेटी के अध्यक्षों, सेक्टर प्रभारियो, अनुभाग अध्यक्षों सहित हजारों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।