दंतेवाड़ा। जिले के 9वीं-10वीं में पढ़ने वाले बच्चों को कानून की सामान्य जानकारी मिलेगी। बच्चों को सामान्य जानकारी देने न्याय सबके लिए किताब का विमोचन जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर में जिला एवं सत्र न्यायधीश  सुधीर कुमार, कलेक्टर सौरभ कुमार द्वारा सभी न्यायधीशों, अधिवक्ताओं की उपस्थिति में किया गया। जिला एवं सत्र न्यायधीश सुधीर कुमार ने कहा कि इस पुस्तक को अति सरलता से प्रश्न-उत्तर के रूप  में लिखा गया है। जिला प्रशासन , विशेष रूप से शिक्षा को उच्च प्राथमिकता देने वाले कलेक्टर सौरभ कुमार का यह सराहनीय प्रयास विद्यार्थियों के साथ अन्य व्यक्तियों के लिए भी अति उपयोगी साबित होगा।

Advertisement

पुस्तक के माध्यम से जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को भी अपना लक्ष्य प्राप्त करने में सहायता मिलेगी। कलेक्टर सौरभ कुमार ने कहा कि स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को कानून की सामान्य जानकारी देने जिला स्तर पर यह पुस्तक तैयार की गई है। इससे कानून की बेहद सामान्य जानकारी बच्चों को देने यह किताब कारगर साबित होगी। उन्होंने कहा कि बच्चे भविष्य के भावी नागरिक हैं, प्रशासन की मंशा है कि विद्यार्थियों को शिक्षा के साथ कानून की भी सामान्य जानकारी दी जाए। इसमें कानून की सामान्य जानकारी बहुत ही सरल और सहज भाषा में है। जिले में कानून की सामान्य जानकारी देने के लिए उक्त किताब सभी हाईस्कूल और हॉयर सेकेण्डरी स्कूलों में उपलब्ध करायी जायेगी। इसके साथ ही हरेक स्कूल के एक शिक्षक को कानूनी जानकारी देने के लिए प्रशिक्षण दी जायेगी। जिले के सभी हाईस्कूल और हॉयर सेकेण्डरी स्कूल में हर सप्ताह एक पीरिएड कानूनी जानकारी की कक्षा ली जायेगी।

Advertisement

जिससे बच्चों को कानून की सामान्य जानकारी मिलेगी और वे अपने परिवार के सदस्यों को कानूनी जानकारी दे सकेंगे। इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव महेश बाबू साहू ने इस किताब की महत्ता के बारे में बताया एवं कहा कि दंतेवाड़ा पहला जिला है, जहां इस तरह का प्रयोग हो रहा है। निश्चित तौर पर इसका फायदा मिलेगा। इस किताब को तैयार करने में विशेष तौर पर सहायक परियोजना समन्वयक राजीव गांधी शिक्षा मिशन दादा जोकाल का सहयोग रहा है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप, जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अशोक कुमार मिश्रा, अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायधीश एनके एस ठाकुर,  मनोज कुमार सिंह ठाकुर, श्रीमती प्रतिभा वर्मा, मुख्य न्यायिक मजिस्टेªट श्रीमती संजया रात्रे, न्यायिक मजिस्टेªट जनक कुमार हिड़को सहित अन्य अधिकारी, अधिवक्तागण, कर्मचारी मौजूद थे।