भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल पर तीखा हमला कर उन्हें उस बयान के लिए आड़े हाथों लिया है, जिसमें बघेल ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को महिलाओं की जासूसी के मद्देनजर महिला विरोधी सिद्ध करने की कोशिश की है।
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष कौशिक ने तल्ख तेवर दिखाकर बघेल पर हमलावर होकर कहा कि सेक्स सीडी और अपनी ही पार्टी के प्रदेश प्रभारी के विरुद्ध सीडी व स्टिंग की साजिश के आरोपों में फंसे बघेल जैसे नेताओं की यह हैसियत नहीं है कि वे भाजपा अध्यक्ष शाह को महिलाओं के सम्मान की सीख दें। कौशिक ने बघेल को याद दिलाया कि महिलाओं की अस्मिता और जिंदगी से खिलवाड़ कर उन्हें खत्म तक कर देने का खूनी चरित्र कांग्रेस ने देश को दिखाया है। मॉडल जेसिका लाल, प्रियदर्शिनी मट्टू हत्याकांड और नैना साहनी के मामले इस बात के गवाह हैं। कांग्रेस के एक प्रभावशाली नेता विनोद शर्मा के बेटे मनु शर्मा ने मॉडल जेसिका लाल की 1999 में गोली मारकर हत्या कर दी थी। जनवरी 1996 मे लॉ स्टूडेंट प्रियदर्शिनी मट्टू की बलात्कार करने के बाद हत्या की गई थी, जिसका आरोपी संतोष कुमार उम्रकैद काट रहा है। इससे ठीक पहले जुलाई 1995 में कांग्रेस कार्यकर्ता नैना साहनी की उनके ही एमएलए पति ने हत्या कर दी थी और बाद में नैना के शव के टुकड़े कर तंदूर में जलवाया था। बताना जरूरी नहीं कि इन मामलों में या तो पीड़ित पक्ष कांग्रेस का था या फिर सजा काट रहे अपराधी कांग्रेस से जुड़े थे। इन दोषियों की जल्द रिहाई के आवेदन को दिल्ली सरकार के बोर्ड ने गुरुवार को ही खारिज किया हैं।
कौशिक ने कहा कि छत्तीसगढ़ के ही कांग्रेस की विद्यार्थी इकाई की एक कार्यकर्ता ने इकाई के अध्यक्ष पर यौन प्रताड़ना का आरोप लगाया है। पहले बघेल अपना घर तो संभाल लें, फिर दूसरों पर उंगली उठाने की जहमत पालें। अपने कांग्रेसी चरित्र का परिचय देकर सेक्स सीडी को घर-घर पहुंचाकर महिलाओं की अस्मिता का खुला अपमान करके बघेल महिलाओं के सम्मान की बात किस मुंह से कर रहे हैं? बाद में अपने पाप को जेल-बेल के खेल से छिपाने का शर्मनाक कृत्य करके बघेल ने फिर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी के खिलाफ सीडी और स्टिंग में खुद को संलिप्त करने का अनैतिक कार्य भी किया है।

Advertisement

कौशिक ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने महिलाओं की अस्मिता, आत्मसम्मान और प्रतिभा का सम्मान कर महिला सशक्तिकरण की अनेक योजनाएं अमल में लाई हैं। स्काई योजना में छत्तीसगढ़ की महिलाओं को मोबाइल देना, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, नोनी सुरक्षा योजना, प्रदेश में राशन कार्ड पर महिला मुखिया का नाम देने का निर्णय, जमीन रजिस्ट्री में दो प्रतिशत की छूट, कन्यादान योजना, सरस्वती साइकिल योजना, संस्थागत प्रसव को बढ़ावा, शिशु और मातृ मृत्यु दर में कमी, महिलाओं की रोजगार की पुख्ता व्यवस्था, पीएससी में छत्तीसगढ़ की महिलाओं की आयु सीमा 45 वर्ष करना आदि ऐसी उपलब्धियां भाजपा की सरकार के खाते में हैं। जन्म से लेकर आजीवन महिलाओं के हित की चिंता करके उनके स्थायी सशक्तिकरण की सोच केवल भाजपा के राजनीतिक चिंतन से ही संभव है। इतना ही नहीं, भाजपा सरकार ने पंचायती राज में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण तो दिया ही है, भाजपा ने अपने संगठनात्मक ढांचे में भी 33 फीसदी महिलाओं को अवसर देकर उन्हें अपनी राजनीतिक शक्ति से भी परिचित कराया है। इतना सब करके ही भाजपा महिलाओं की सुरक्षा, स्वतंत्रता और सम्मान की हुंकार भर रही है। बघेल जैसे नेताओं की तो नियति ही यही है कि महिलाओं को उपभोग की वस्तु मानकर सीडी कांड रचते रहें और बाद में मिमियाते हुए अपने अपराधों को ढांकने की नाकाम और नापाक कोशिशें करते रहें।

 

 गंदी सीडी बनाने वालों के साथ काम करने में लज्जा महसूस ना करने वाली कांग्रेस नेतृत्व छत्तीसगढ़ के मातृशक्ति का अपमान कर रही है- अमित शाह

महिला महासम्मेलन में जुटी हजारों की संख्या में मातृशक्ति को नमन करते हुए कहा कि 35 वर्षों  के सार्वजनिक जीवन में यह मेरे द्वारा देखा गया सबसे बड़ा मातृशक्ति महाकुंभ है। इतनी बड़ी संख्या में उपस्थित मातृशक्ति साबित कर रही है, कि हमारी जीत निश्चित है, हमें कहना चाहिए हम जीत चुके चुनाव व मतगणना की फार्मेलिटी शेष है। उन्होंने कहा कि एक बेटा यदि कार्य करता है, तो हमें एक कार्यकर्ता मिलता है, जबकि एक बेटी के कार्य करने से पूरा परिवार कार्यकर्ता बनता है। इतनी बड़ी मातृशक्ति और उनका पूरा परिवार हमारे साथ है, इसके लिए छत्तीसगढ़ की सरकार एवं केन्द्र में नरेन्द्र मोदी सरकार की योजनाएं प्रमुख है। उन्होंने छत्तीसगढ़ की धरा को नमन करते हुए कहा कि यह माता कौशिल्या की जन्मभूमि है, जहां की बेटी का चयन भगवान राम ने भी जन्म लेने के लिए किया था। उन्होंने केन्द्र में नरेन्द्र मोदी सरकार में 9 महिलाओं को शामिल किये जाने का उल्लेख करते हुए विगत दिनों अमेरिका के साथ द्विपक्षीय वार्ता में अमेरिका के पुरुष रक्षा व विदेश मंत्री के समक्ष सुषमा स्वराज विदेश मंत्री व निर्मला सीतारमण रक्षा मंत्री का हमारी ओर से प्रतिनिधित्व का उल्लेख करते हुए कहा कि मातृशक्ति ने हमारा मान बढ़ाया है। उन्होंने छत्तीसगढ़ में डॉ. रमन के नेतृत्व में विकास की बातों के साथ नक्सलवाद व माओवाद के खात्मे के प्रयासों के साथ इसे शांत राज्य बनाने जाने की भूरी-भूरी प्रशंसा की  उन्होंने कहा कि मातृशक्ति वो शक्ति है, जो ना सिर्फ अपनी वरण परिवार के सदस्यों के भूखे रहने से स्वयं भी भूख की वेदना को महसूस करती है। भूख की इस वेदना से मुक्ति के लिए छ.ग. में चावल योजना की प्रमुख है। कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि गंदी सीडी वालों के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ का चुनाव लडऩे में लज्जा महसूस ना करने वाले राहुल बाबा छत्तीसगढ़ की मातृशक्ति  का अपमान कर रहे हैं।  उन्होंने मातृशक्ति का अपमान करने वाले कांग्रेस पार्टी को जड़ से उखाडऩे का संकल्प दिलाते हुए कहा कि मातायें कांग्रेस को ऐसा दंड दे कि ये किसी अन्य जगह ऐसा घृणित कार्य आगे न कर पाये। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की योजनाए, उज्जवला शौचालय, बैंक खाता सभी के केन्द्र में महिलायें हैं। उन्होंने कहा कि आज साढ़े सात करोड़ घरों में शौचालय है, 5 करोड़ घरों में माताओं की रसोई से धुंआ दूर हुआ है। कोई माता के आंखों की  ज्योति अब उम्र से पहले नहीं बुझेगी, तीन तलाक से माताओं को होने वाली पीड़ा को महसूस करते हुए बनने वाले कानून का कांग्रेस विरोध कर रही है, यह भी विडम्बना है।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने हुंकार भरी कि  हजारों की संख्या में खड़ी मातृशक्ति साबित कर रही है कि कोई मां का लाल हमें सरकार बनाने से नहीं रोक सकता। विशाल संख्या में उपस्थित माता-बहनों को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने इस्पात नगरी में देश की राजनीति में जुदा पहचान बनाने वाले लौह पुरुष अमित शाह का अभिनंदन करते हुए सरोज पाण्डेय को विशाल आयोजन की सफलता के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा यह हमारा सौभाग्य है कि हमें हमारे प्रदेश छत्तीसगढ़ का नाम लेने से ही मातृशक्ति का मान होता है।  उन्होंने दुनिया के जेण्डर अनुपात में छत्तीसगढ़ का 1000 बालक में 979 बालिका का उल्लेख करते हुए कहा कि केरल के बाद छत्तीसगढ़ दूसरा राज्य है जहां भ्रूण हत्या नहीं होती। लाड़ली नोनी योजना में  के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि बस्तर से सरगुजा तक छत्तीसगढ़ आगे बढ़ रहा है, तरक्की के मार्ग पर तो मातृशक्ति के चलते। 40 लाख स्मार्ट फोन बहनों को संचार क्रांति योजना के तहत दिये जाने का उल्लेख करते हुए उन्होंने 35 लाख बहनों को छत्तीसगढ़ में उज्ज्वला योजना से लाभ के साथ आयुष्मान योजना के लिए प्रधानमंत्री का स्वागत अभिनंदन करते हुए संघर्ष में तपे राष्ट्रीय अध्यक्ष का छत्तीसगढ़ में स्वागत किया जिन्होंने विश्व की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा को बनाया।
भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव सुश्री सरोज पाण्डेय ने कहा दुनिया की कोई भी ताकत जब संकल्प को रोकने की कोशिश करती है उसे हारना पड़ता है, छत्तीसगढ़ की महिला शक्ति संकल्प ले हम 65 सीटों की जीत के साथ चौथी बार सरकार बनाने जा रहे हैं। कांग्रेस तो सिर्फ सीडी बनाती है। न इस पार्टी के पास नेता है, न नेतृत्व।  कांग्रेस के कृत्य ही उन्हें हार का रास्ता दिखाएंगे। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को साधुवाद दिया जिनके कार्यकाल में प्रदेश की तस्वीर व तकदीर बदली है। उन्होंने बड़ी संख्या में उपस्थित मातृशक्ति को नमन करते हुए कहा बेटियां बहने फिर से कमल खिलायेंगीं। उन्होंने  देश  के मुखिया नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद दिया जिन्होंने विदेश मंत्री, रक्षा मंत्री का पद महिलाओं को देकर उनका मान बढ़ाया यदि यह कहीं संभव है तो केवल और केवल भाजपा में।
मंच में  सांसद  कमला देवी पाटले, केलाबाई मनहर, चंपादेवी पावले, रमशीला साहू, पूजा विधानी, लता उसेण्डी, मीनल चौबे, चंद्रकांता माण्डले, माया बेलचंदन, शालिनी राजपूत, रूप कुमारी चौधरी उपस्थित थीं।
कार्यक्रम में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री व प्रदेश प्रभारी डॉ. अनिल जैन, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री सौदान सिंह, प्रदेश महामंत्री संगठन पवन साय, मंत्री राजेश मूणत, संतोष पाण्डेय, मोर्चा-प्रकोष्ठ प्रभारी रामप्रताप सिंह, विधायक सावला राम डाहरे सहित बड़ी संख्या में महिला मोर्चा कार्यकर्ता शामिल हुईं।