Author: Jinendra Parakh

पद्मावत का विरोध और अभिव्यक्ति की जीत

आखिरकार ढेर सारे विवाद और टकराव के बावजूद फिल्म ‘पद्मावत’ को पूरे देश में दिखाए जाने का रास्ता साफ हो गया। फिल्म निर्माता की याचिका पर गुरुवार को फैसला सुनाते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने चार राज्यों द्वारा फिल्म पर लगाई गई पाबंदी हटाने का आदेश दिया और उनकी संबंधित अधिसूचनाओं पर रोक लगा दी Iपद्मावत फिल्म के बारे में पहले सेंसर बोर्ड और फिर सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आ जाने के बाद सारा विवाद समाप्त हो जाना चाहिए था लेकिन फिर भी मैं यह मानता हूं कि यदि कोई उसका विरोध करना चाहे तो जरुर करे। यह भी अभिव्यक्ति...

Read More

अजातशत्रु अटल – जीवेम स्वस्थम शरद : शतम

बात 1957 की है. दूसरी लोकसभा में भारतीय जन संघ के सिर्फ़ चार सांसद थे. इन सासंदों का परिचय तत्कालीन राष्ट्रपति एस राधाकृष्णन से कराया गया तब राष्ट्रपति ने हैरानी व्यक्त करते हुए कहा कि वो किसी भारतीय जन संघ नाम की पार्टी को नहीं जानते. अटल बिहारी वाजपेयी उन चार सांसदों में से एक थे I भारतीय जन संघ से भारतीय जनता पार्टी और सांसद से देश के प्रधानमंत्री तक के सफ़र में अटल बिहारी वाजपेयी ने कई पड़ाव तय किए हैं. वाजपेयी ने पहली दफा ही सदन के अंदर अपना लोहा मनवा दिया था Iभारतीय राजनीति में...

Read More

इस नए छत्तीसगढ़ में वाजपेयी जी नहीं है ?

छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है और मनाना भी चाहिए ।रायपुर से नया रायपुर तक हर चौक, चौराहे और सड़क को बैनर और विशाल होर्डिंग से ढक दिया गया है । रायपुर के एक चौक में बड़ी सी होर्डिंग में लिखा था – उत्त्सव निर्माण का, उल्लास विकास का, लेकिन यह कैसे राज्य का निर्माण है जहाँ अटल बिहारी वाजपेयी जी का कोई उल्लेख नहीं, कही नाम नहीं ? आधुनिक भारत के राजनीतिक इतिहास में और विशेषकर छत्तीसगढ़ के निर्माण में अटल बिहारी वाजपेयी जी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता । वाजपेयी...

Read More

बस्तर के लोकतंत्र को बयां करती ‘न्यूटन” फिल्म

फिल्म ‘न्यूटन” में बस्तर के अबूझमाड़ क्षेत्र के एक ऐसे दुर्गम  पोलिंग बूथ की कहानी दिखाई गई है जहाँ पहुँचना काफी मुश्किल है। यहाँ सिर्फ 76 मतदाता हैं और शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए की गई कवायदें दिखाई गई हैं। इस कहानी की पृष्ठभूमि पूरी तरह सच्ची है, सिर्फ किरदार काल्पनिक हैं। कहानी में न्यूटन नाम के किरदार ने एक ऐसे सरकारी नौकर का चेहरा दिखाया है जो नक्सलवाद जैसी बड़ी समस्या का एकमात्र समाधान लोकतंत्र के पर्व यानी चुनाव और सुशासन को मानता है। भले ही देश 70 साल पहले आजाद हुआ हो  लेकिन बस्तर आज भी...

Read More

Awanish Sharan’s story that people should know

One of the most underrated positive aspects of the advent of privatisation and commercialisation in the Indian education system is that it has brought rampant efficiency and cut-throat competitiveness in the Indian schooling system. At that the mushrooming of international and private schools perennially has turned out to be a healthy diet for our education system. The official statistics, however shows a different reality off the record. It says 29% of kids are sent to private schools while the remaining ones are directed towards government or, for state-funded education. Thus the reality of Indian education system lies in the...

Read More
  • 1
  • 2

Advertisement

Cartoon by V.K. Ogale

Disclaimer

The opinions expressed within the articles are the personal opinions of the authors & Writers. The facts and opinions appearing in the article do not reflect the views of www.mitaanexpress.com and www.mitaanexpress.com does not assume any responsibility or liability for the same. While precautions have been taken to ensure accuracy of the content of our portal, neither the Editor, publisher or its agent can accept responsibility for any damages or injury which may arise there from. www.mitaanexpress.com does not vouch for the authenticity of any advertisement or advertiser or for any of the advertiser's product and/or services. In no event can the owner, editor of this portal/organization be held responsible/liable in any manner whatsoever for any claims and/or damage for advertisement in the portal. All the rights are with www.mitaanexpress.com and write-ups, content and articles in the portal are unpaid. All legal matters will be settled only in the jurisdiction in courts of Durg district, Chhattisgarh. We have reproduced popular articles/research papers/ other contents, in larger interest of our readers. However, www.mitaanexpress.com shall not be responsible for any inadvertent oversight/ printing mistakes while reproducing these content.

Total Number of Visitor

0086383
Free Divi WordPress Theme, Find new Free Android Games at dlandroid24.com