Author: विनोद साव

आना लक्ष्मी जी का व्यंग्यकार के घर

‘क्या बोला लक्ष्मी जी अपुन का घर आएंगा ! वंडरफुल.. गाडेस लक्ष्मी हमारा घर विजिट करेंगा.  गाडेस लक्ष्मी यानी पइसा का गाडेस. वो इधर कू आएंगा ! जइसा नेता लोग अपना चुनाव क्षेत्र में आता वइसा. लेकिन लक्ष्मी जी अच्छा है वो हर साल आता. नेता लोगों जइसा नई जो पांच साल में एक बार आता. अपुन तो लक्ष्मी जी को वी.आई.पी. ट्रीटमेंट देंगा शरद जोशी का माफिक. उनका ग्रेंड वेलकम करेंगा जइसा नया कलेक्टर आने का टाइम जिला कचहरी में लोग करता. फिर अपुन का प्रोब्लम बताएंगा. अपना घर को हम वइसा ही डेकोरेट करेंगा जइसा साहब लोग...

Read More

बारिश और दंगा

अब तो बारिश और दंगों का कोई भरोसा ही नहीं रहा. जब कभी भी बारिश हो जाती है और जहां कहीं भी दंगा. कामकाजी लोगों को हरदम ये खौफ रहने लगा कि न जाने कब बारिश हो जाए और न जाने कब दंगा. बच्चे तो हर साल बारिश में बहाने बनाकर स्कूल कालेज जाने से कन्नी काट लिया करते हैं लेकिन अब उन्हें बहाने बनाने के लिए दंगे भी खूब नसीब होते हैं. बस थोड़ी से कहीं कुछ अफवाह उड़ी नहीं कि स्कूल कालेज बंद. सरकार समझती है कि छुट्टियां कर देने से दंगों पर नियंत्रण होगा जबकि हमारे...

Read More

Advertisement

  • Manthan
    Manthan

Cartoon by V.K. Ogale

Total Number of Visitor

0054550
Free Divi WordPress Theme, Find new Free Android Games at dlandroid24.com