यह बजट गांव, गरीब और किसान को खुशहाल बनाने वाला है

1
118
भारतीय जनता पार्टी प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने केन्द्रीय बजट पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि यह बजट गांव, गरीब और किसान को खुशहाल बनाने वाला है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने किसानों को उनकी फसल लागत का डेढ़ गुना मूल्य देने की जो पहल की है वह एक क्रांतिकारी निर्णय साबित होगा और इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था काफी मजबूत होगी। उन्होंने कहा आयुष्मान भारत योजना से 10 करोड़़ परिवार के 50 करोड़ लोगों को ईलाज का लाभ मिलेगा यह विश्व की एकमात्र ऐसी योजना है जिसमें 5 लाख तक ईलाज के लिए व्यवस्था होगी। जी.एस.टी. , नोटबंदी, सर्जिकल स्ट्राईक के बाद आयुष्मान भारत योजना मोदी जी का मास्टर स्ट्रोक है जो आम आदमी को स्वास्थ्य की सुरक्षा देगा जिसे जनता याद रखेगी। सन् 2022 तक सभी को आवास की प्रतिबध्दता दिखाती है कि रोटी, कपड़ा और मकान की चिंता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की है। प्रधानमंत्री मोदी व वित्तमंत्री अरूण जेटली को बहुत-बहुत धन्यवाद।
राज्यसभा सांसद व राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति मोर्चा अध्यक्ष रामविचार नेताम ने कहा कि सबका साथ-सबका विकास की परिकल्पना इस बजट में साफ परिलक्षित होती है। उन्होंने कहा कि 50 प्रतिशत आदिवासी आबादी वाले क्षेत्रों में एकलव्य आदर्श विद्यालय नवोदय की तर्ज पर खोलने की निर्णय का हम तहेदिल से स्वागत करते है क्योंकि किसी भी समाज के विकास का मुख्य अंग शिक्षा ही होता है अब आदिवासी क्षेत्रों में भी क्वालिटी एजुकेशन की अच्छी व्यवस्था हो पाएगी। साथ ही 10 करोड़ परिवारों के 50 करोड़ लोगो को 5 लाख तक ईलाज की सुविधा की घोषणा एक अच्छी पहल है जिसका लाभ गरीब भाईयों व बहनों को मिलेगा। एक अच्छी सोच वाला बजट है इसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को साधुवाद।
Advertisement
भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री सुश्री सरोज पाण्डेय ने कहा कि आज का बजट जन आकांक्षाओं पर खरा उतरा है। किसानों को डेढ़ गुना मूल्य की व्यवस्था इस बजट का मुख्य आकर्षण है साथ ही साथ 8 करोड़ महिलाओं को उज्ज्वला योजना का लाभ मिलेगा यह पहल सराहनीय है। गांव के विकास के लिए 14.5 लाख करोड़ रू. का फंड बताता है कि गांव प्रधान देश को विकसित करने के लिए यह दूरदृष्टि भरा कदम है। उन्होंने कहा कि बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है। शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क को मजबूत बनाने के लिए बजट में अधिक राशि का प्रावधान किया गया है जो ईज ऑफ बिजनेस के साथ-साथ ईज ऑफ लिविंग बनाने वाला भी है।
भाजपा प्रवक्ता शिवरतन शर्मा, श्रीचंद सुन्दरानी, सच्चिदानंद उपासने, संजय श्रीवास्तव, भूपेन्द्र सवन्नी  ने कहा कि यह बजट चौतरफा विकास से देश को एक नए दिशा में ले जाने वाला बजट है। सभी वर्गो के लिए बजट में कुछ ना कुछ अवश्य है जो सभी की आशा आकांक्षाओं पर खरा उतरने वाला है। एम.एस.एम.ई उद्योगो को टैक्स में 30 प्रतिशत से कम कर 25 प्रतिशत किया, 70 लाख नए नौकरी का सृजन, तथा 24 नए मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा, एकलव्य विद्यालय के साथ 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लक्ष्य के लिए लागत मूल्य का डेढ़ गुना देने की पहल बजट को सर्वस्पर्शी बनाती है।
भाजपा किसान मोर्चा अध्यक्ष पूनम चंद्राकर ने कहा कि लागत मूल्य से डेढ़ गुना मूल्य कृषि उपज पर एवं सभी प्रकार के फसलों को एम.एस.पी. देने की व्यवस्था  ने किसानों के लिए नए नई सुबह की शुरूआत है यह बजट भारत और इंडिया की दूरी कम करने वाला बजट है । यह बजट किसान व मजदूरों की चिंता को मिटाने वाला है।
भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा अध्यक्ष कृष्णमूर्ति बांधी व अनुसूचित जनजाति अध्यक्ष सिध्दनाथ पैकरा ने केन्द्र के बजट को सराहा और कहा कि मेडिकल हेल्थ स्कीम का लाभ सबसे ज्यादा अनुसूचित जाति व जनजाति के लोगों को मिलेगा तथा एससी वेलफेयर के लिए 56,620 करोड़ रू. , 32,508 करोड़ रू. एसटी वेलफेयर फंड के लिए दिया गया है जो अच्छी पहल है।
भाजयुमो अध्यक्ष विजय शर्मा ने इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलवमेंट, हाईवे निर्माण, स्मार्ट सिटी स्कीम पर विशेष ध्यान देने तथा रेल्वे के आधुनिकरण के समायोजन को बजट का मुख्यबिन्दु बताते हुए कहा कि इससे रोजगार सृजन का काम होगा।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here